Advertising

Digital Services

बच्चों का पैन कार्ड अपने मोबाइल से बनाये घर बैठे | Minor Pan Card Online Apply 2024

Advertising

Advertising

Minor Pan Card. दोस्तों, नमस्ते! आज हम बात करेंगे कि नाबालिग बच्चों के लिए पैन कार्ड कैसे बनाया जाता है। हां, आप अपने 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भी पैन कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप अपने बच्चे के लिए पैन कार्ड प्राप्त करना चाहते हैं, तो यह लेख आपके लिए है।

Advertising

आजकल, पैन कार्ड एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज बन गया है। यह बैंक खाता खोलने, सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने और वित्तीय लेनदेन करने के लिए आवश्यक है। यदि आप चाहते हैं कि आपके बच्चे भविष्य में इन सुविधाओं का आसानी से लाभ उठा सकें, तो उनके लिए पैन कार्ड प्राप्त करना महत्वपूर्ण है।

Minor Pan Card क्या है ?

  • नाबालिग या माइनर पैन कार्ड वह पैन कार्ड है जो 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिए जारी किया जाता है।
  • यह माता-पिता या अभिभावक द्वारा आवेदन किया जाता है।
  • नाबालिग पैन कार्ड में कोई प्रतिबंध या सीमा नहीं होती है, इसे किसी भी उद्देश्य के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है जैसे बैंक खाता खोलना, निवेश करना, आयकर रिटर्न दाखिल करना आदि।
  • इससे बच्चे की पहचान साबित होती है और उनके भविष्य के वित्तीय कार्यों में मदद मिलती है।

नाबालिग पैन कार्ड बच्चों के लिए कई लाभ प्रदान करता है और उनके भविष्य को सुरक्षित करने में मदद करता है।

1. नाबालिग पैन कार्ड के लिए आवेदन करते समय, माता-पिता/अभिभावक को अपना पैन कार्ड नंबर भी देना होगा।

2. जब बच्चा 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेता है, तो नाबालिग पैन कार्ड को बदलवाना होगा और वयस्क के लिए नया नॉर्मल पैन कार्ड बनवाना होगा।

3. यह प्रक्रिया आवश्यक है क्योंकि नाबालिग पैन कार्ड अस्थायी प्रकृति का होता है और वयस्क होने पर इसे नए पैन कार्ड से बदलना आवश्यक हो जाता है।

मुझे लगता है कि यह जानकारी बहुत उपयोगी है। नाबालिग पैन कार्ड बनवाना एक महत्वपूर्ण कदम है, लेकिन जब बच्चा वयस्क हो जाए तो इसे अपडेट करना भी जरूरी है। आपकी इस विस्तृत जानकारी के लिए धन्यवाद।

Pan Card कब आवश्यक होता है नाबालिगों के लिए?

नाबालिगों के लिए पान कार्ड: कई लाभ

आजकल, नाबालिगों के लिए पान कार्ड प्राप्त करना कई महत्वपूर्ण कारणों से फायदेमंद होता है।

पहचान का प्रमाण – पांच वर्ष या उससे अधिक आयु के बच्चों के लिए, पान कार्ड मान्यता प्राप्त पहचान के रूप में काम कर सकता है। यह स्कूल में प्रवेश, बैंक खाता खोलना, या सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने जैसी गतिविधियों के लिए उपयोगी हो सकता है।

बैंक खाता – अगर आप अपने बच्चे के नाम पर बैंक खाता खोलना चाहते हैं, तो पान कार्ड अनिवार्य है। यह खाता उनके वित्तीय लेन-देन को प्रबंधित करने में मदद करेगा और बचत की आदत डालने में मदद करेगा।

निवेश और असली जमीन – अगर आप अपने बच्चे के नाम पर निवेश करते हैं या उन्हें असली जमीन, शेयर्स, या अन्य संपत्तियों में शामिल करते हैं, तो पान कार्ड एक आवश्यक दस्तावेज होगा। यह उनके वित्तीय भविष्य को सुरक्षित करने में मदद करेगा और कर संबंधी जटिलताओं से बचेगा।

सरकारी योजनाएँ – कई सरकारी योजनाएँ, जैसे सुकन्या समृद्धि योजना, में नाबालिगों के लिए पान कार्ड की आवश्यकता होती है। ये योजनाएं शिक्षा, स्वास्थ्य, और वित्तीय सहायता प्रदान करती हैं, जो आपके बच्चे के भविष्य के लिए फायदेमंद हो सकता है।

करणीय आय – अगर आपके नाबालिग बच्चे की आय करणीय श्रेणी में आती है, तो पान कार्ड अनिवार्य हो जाता है। आयकर रिटर्न (ITR) जमा करते समय पान कार्ड की आवश्यकता होती है।

ध्यान दें:

  • केवल विशिष्ट परिस्थितियों में नाबालिग की आय पर कर लगता है।
  • नाबालिग के लिए पान कार्ड के लिए आवेदन को माता-पिता या अभिभावक द्वारा किया जाना चाहिए।

निष्कर्ष: नाबालिग के लिए पान कार्ड प्राप्त करने के कई लाभ हैं। यह पहचान प्रदान करता है, वित्तीय लेन-देन को सुविधाजनक बनाता है, और सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने में मदद करता है

नाबालिग पैन कार्ड ऑनलाइन आवेदन: संक्षिप्त विवरण

शीर्षलेख विवरण
विभाग का नाम आयकर विभाग, भारत सरकार
लेख नाबालिग पैन कार्ड ऑनलाइन आवेदन
प्रकार नवीनतम जानकारी
नाबालिग पैन कार्ड के लिए आवश्यक आयु 18 वर्ष से कम
आधिकारिक वेबसाइट [यहां क्लिक करें]

Update PAN Card in 5 min from Mobile

Download PAN card in 5 minutes

How to make a PAN card in 5 min

पैन कार्ड खो गया है घर बैठे आवेदन करें 

नाबालिगों के लिए पैन कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें – Step By Step Process

नाबालिग के लिए पैन कार्ड: दो आसान तरीके
भारत सरकार ने पैन कार्ड के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया को दो सरल विकल्पों में विभाजित किया है – ऑफलाइन और ऑनलाइन।

ऑफलाइन विधि:

  • फॉर्म डाउनलोड करें:
    • Income Tax की वेबसाइट से फॉर्म 49 (भारतीय निवासियों के लिए) या फॉर्म 49ए (भारत में रहने वाले गैर-भारतीयों के लिए) डाउनलोड करें।
    • आप फॉर्म को यूटीआईआईटीएसएल कार्यालयों या उनके अधिकृत एजेंटों से भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • फॉर्म भरें:
    • आवश्यक विवरण सावधानीपूर्वक और सटीक रूप से दर्ज करें।
    • आवश्यक दस्तावेजों की प्रतियां संलग्न करें।
    • ध्यान दें: नाबालिग के लिए फोटो की आवश्यकता नहीं है।
  • जमा करें और शुल्क का भुगतान करें:
    • भरा हुआ फॉर्म और दस्तावेजों के साथ, प्रोसेसिंग शुल्क का भुगतान करें।
    • निकटतम यूटीआईआईटीएसएल कार्यालय में जमा करें।
  • पैन कार्ड प्राप्त करें:
    • जमा किए गए विवरणों के सत्यापन के बाद, पैन कार्ड आपके द्वारा फॉर्म में दिए गए पते पर डाक द्वारा भेजा जाएगा।

ऑनलाइन आवेदन:

नाबालिग पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया :

चरण 1: NSDL वेबसाइट पर जाएं
नाबालिग पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने हेतु, आधिकारिक NSDL वेबसाइट पर जाएं।

Official Website : Click Here

Minor Pan Card

चरण 2: एप्लिकेशन का प्रकार और श्रेणी चुनें
‘नया PAN – भारतीय नागरिक (फॉर्म 49ए)’ को एप्लिकेशन के प्रकार और ‘व्यक्तिगत’ को श्रेणी के रूप में चुनें।

चरण 3: एप्लिकेशन फॉर्म भरें
फॉर्म 49ए भरने के दिए गए निर्देशों के अनुसार सभी आवश्यक विवरण भरें जैसे बच्चे की व्यक्तिगत जानकारी, माता-पिता/अभिभावक का विवरण और पहचान/पता प्रमाण के दस्तावेज़।

चरण 4: फोटो और दस्तावेज अपलोड करें
बच्चे की फोटो और सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करें।

चरण 5: शुल्क का भुगतान करें
क्रेडिट/डेबिट कार्ड, डिमांड ड्राफ्ट या नेट बैंकिंग से शुल्क का भुगतान करें और ‘सबमिट’ बटन दबाएं।

चरण 6: स्वीकृति नंबर प्राप्त करें
आवेदन सबमिट होने पर एक स्वीकृति नंबर मिलेगा जिससे आवेदन की स्थिति ट्रैक की जा सकेगी।

चरण 7: दस्तावेज भेजें (यदि आवश्यक हो)
यदि कोई दस्तावेज अपलोड नहीं किया गया है, तो उन्हें डिमांड ड्राफ्ट के साथ एक लिफाफे में पुणे स्थित इनकम टैक्स पैन सर्विसेज यूनिट को भेजें।

चरण 8: पैन कार्ड प्राप्त करें
आवेदन के सत्यापन के बाद, 10-15 कार्यदिवसों में नाबालिग पैन कार्ड आपके पते पर पहुंच जाएगा।

निष्कर्ष:

नाबालिग के लिए पैन कार्ड प्राप्त करना अब आसान और सुविधाजनक है। आप अपनी पसंद के अनुसार ऑफलाइन या ऑनलाइन विधि का उपयोग कर सकते हैं।

ध्यान दें:

नाबालिग के लिए पैन कार्ड माता-पिता या अभिभावक द्वारा आवेदित किया जाना चाहिए।
आवेदन करते समय सभी जानकारी सही और सटीक होनी चाहिए।
आवश्यक दस्तावेजों की प्रतियां स्पष्ट और पठनीय होनी चाहिए।

बच्चो के पैन कार्ड वनवाने के लिए जरूरी दस्तावेज

कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं माइनर पैन कार्ड के लिए?

नाबालिगों के लिए पैन कार्ड आवेदन के साथ निम्नलिखित दस्तावेज जमा करने होंगे:

आयु का प्रमाण:

माइनर पैन कार्ड के लिए आवेदन एक प्रमाण के रूप में निम्नलिखित दस्तावेज़ जमा किया जा सकता है, जैसा कि उपयुक्त हो, इसके साथ:

  • आधार कार्ड
  • नगरपालिका जन्म प्रमाण पत्र
  • मान्यता प्राप्त शैक्षणिक बोर्ड द्वारा जारी मार्कशीट
  • पासपोर्ट
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • मतदाता पहचान पत्र
  • सरकार द्वारा जारी फोटो पहचान पत्र

पते का प्रमाण:

माइनर पैन कार्ड के लिए पते के प्रमाण के रूप में निम्नलिखित दस्तावेज़ जमा किया जा सकता है, इसके साथ पैन कार्ड आवेदन:

  • पासपोर्ट
  • मतदाता पहचान पत्र
  • राज्य सरकार द्वारा जारी निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • डाकघर की पासबुक, जिसमें आवेदक का पता उल्लिखित हो
  • संपत्ति दस्तावेज़
  • सांसद/विधायक या राज्य सभा सदस्य/गैजेटेड अधिकारी द्वारा हस्ताक्षरित मूल पते का प्रमाण पत्र
  • बिजली बिल/लैंडलाइन/पानी/उपभोक्ता गैस बिल (3 महीने से अधिक पुराना नहीं)
  • क्रेडिट कार्ड/बैंक खाता विवरण (3 महीने से अधिक पुराना नहीं)

पहचान का प्रमाण:

माइनर पैन कार्ड के लिए पहचान के रूप में निम्नलिखित दस्तावेज़ जमा किया जा सकता है, इसके साथ पैन कार्ड आवेदन:

  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट
  • राशन कार्ड
  • सरकार द्वारा जारी फोटो पहचान पत्र
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • मतदाता पहचान पत्र

Official Website : Click Here

माइनर पैन कार्ड आवेदन के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ):

1. माइनर पैन कार्ड क्या है? माइनर पैन कार्ड वह परमानेंट एकाउंट नंबर (PAN) कार्ड है जो 18 वर्ष से कम आयु वाले व्यक्तियों को जारी किया जाता है। यह विभिन्न वित्तीय लेन-देनों के लिए माइनर के लिए पहचान के रूप में काम करता है।

2. कौन माइनर पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है? माइनर पैन कार्ड के लिए माता-पिता या कानूनी अभिभावक अपने बच्चों के नाम पर आवेदन कर सकते हैं जो 18 वर्ष से कम आयु के हैं।

3. माइनर पैन कार्ड आवेदन के लिए कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं? माइनर पैन कार्ड आवेदन के लिए सामान्यत: निम्नलिखित दस्तावेज़ की आवश्यकता होती है – आयु का प्रमाण, पते का प्रमाण, और पहचान का प्रमाण माइनर और माता-पिता/कानूनी अभिभावक दोनों के लिए।

4. मैं माइनर पैन कार्ड के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूँ? आप माइनर पैन कार्ड के लिए आधिकारिक वेबसाइट या पैन सेवा केंद्र के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

5. क्या माइनर के पास अपना खुद का पैन कार्ड हो सकता है? हां, माइनर के पास उनका अपना पैन कार्ड हो सकता है। हालांकि, यह आमतौर पर उनके माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा आवेदन किया जाता है जब तक वे 18 वर्ष के नहीं हो जाते।

6. क्या माइनर के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है? हालांकि माइनर के लिए पैन कार्ड अनिवार्य नहीं है, लेकिन यह कुछ वित्तीय लेन-देनों के लिए उपयोगी हो सकता है, जैसे कि बैंक खाता खोलना, वित्तीय उपकरणों में निवेश करना, या किसी विशेष प्रकार की आय प्राप्त करना।

7. माइनर पैन कार्ड की वैधता क्या है? माइनर पैन कार्ड की वैधता व्यक्ति की पूरे जीवन के लिए रहती है, यहां तक कि वह 18 वर्ष के हो जाने के बाद भी। हालांकि, किसी भी बदलाव या सुधार के लिए पैन विवरणों की आवश्यकता हो सकती है।

Official Website : Click Here

Advertising

Related Posts

Minor Pan Card Apply for Your children : Application process 2024

Advertising Advertising Minor Pan Card. Friends, hello! Today we will talk about how to make a PAN card for minor children. Yes, you can also get a PAN card for your children under the age of 18. If you want...